समर्थक

रविवार, 10 जुलाई 2011

ACTUAL INDEPENDENCE !!!

SwaSaSan Welcomes You...
वास्तविक आज़ादी की ओर ...
स्वसासन 
आजाद भारत के हम आजाद नागरिक
केवल मनमानी करने की आज़ादी [???]
को ही आज़ादी ना मानें !
हमारे कुछ बुनियादी अधिकार हैं तो 
कुछ आवश्यक कर्त्तव्य भी !
.
वास्तविक आज़ादी के लिए हमारा जागृत होना आवश्यक है .
स्वसासन इस दिशा में प्रयत्नशील है !
स्वसासन के सुझाव /मांगें / घोषणा पत्र 
कुछ इस तरह हैं -
.
आनलाइन वोटिंग 
.
[ ताकि व्यस्त एवं अनिच्छित वोटर भी आने वोट दे सकें !
यदि वर्तमान सरकार व्यवस्था नहीं कर सकी तो स्वसासन समर्थित सरकार अवश्य करेगी  ]
.
संविधान में आवश्यक उचित संशोधन 
.
[हमारा संविधान उच्च कोटि के प्रावधानों से परिपूर्ण तो है
किन्तु इन के कठोर परिपालन सुनिश्चित करने हेतु अभी भी कुछ सुधार  आवश्यक ]
.
सुचारू शासकीय कार्य सम्पादन  
.
प्रत्येक शासकीय /अशासकीय कार्यालय में कार्यवाही सुनिश्चित करना 
[शासकीय कर्मचारियों का एक बड़ा हिस्सा अपने वेतन को आय का मुख्य  श्रोत  नहीं मानता
ऐसे कर्मचारियों से निजात हेतु
पुलिस अदि विभागों में उचित वेतन,सुविधा, सेवा शर्तें व
  उचित कार्यसम्पादन हेतु तत्पर कर्मियों को ही सेवा लाभ ]
कुशल अधिकारी, कर्मचारी, राजनीतिज्ञ, नागरिक को
बड़े पारितोषिक  की व्यवस्था 
एवं    

भ्रष्ट / असक्षम/ या /लापरवाह  अधिकारी, कर्मचारी, राजनीतिज्ञ, नागरिक को
कड़े दंड की व्यवस्था
.
 सुलभ एवं सुनिश्चित न्याय 
.
न्यायपालिका से १००% सुनिश्चित न्याय
[हजार दोषी छूट जाएँ पर किसी निर्दोष को सजा ना हो !
को बदलकर 
'ना कोई निर्दोष सजा पाए ना कोई दोषी छूट पाए '
पर लाना ]
.
केवल इतने सुधार भी हो जाएँ तो देश दस गुनी तेजी से 
प्रगति पथ पर चल पड़े 
किन्तु बिना आप सबके जागरूक सहयोग के 
ऐसा कोई सुधार नहीं हो सकता !
इन विचारों के समर्थक 
/
नए रचनात्मक सुझावों के स्वामी 
संपर्क कर रूचि प्रदर्शित करें 
/
स्वप्न साकार संघ की सक्रिय सदस्यता लें !
प्रत्येक बिंदु पर विस्तृत अगली कड़ियों में ...

कोई टिप्पणी नहीं:

Translate