समर्थक

Google+ Followers

Follow by Email

गुरुवार, 20 जनवरी 2011

पूर्वाभाश


पूर्वाभाश 

अभी अभी दिल्ली में मिले छोटे बम केवल ध्यान भटकने की कार्यवाही है 
अगला आतंकवादी हमला दक्षिण भारत में होने की संभावना दिख रही है .
 अन्ना जी के अनशन समाप्ति के दिन मैंने लिखा था 'यह जीत नहीं भुलाबा है ...'
 [ कल स्वयं अन्नाजी ने स्वीकार किया ]
05/06/2011

पूर्व प्रकाशित 
sixth sense
दोस्तो ; 
एक  बात बतानी भूल गया था कि यदि आप सन्मार्ग के राही हैं तो ईश्वर आपको कुछ ना कुछ विशेष से अवश्य आशीषित करता है   . जैसे कि मेरे लिए आशीषित है कि मुझे भविष्य मैं होने वाली सामाजिक घटनाओं का पूर्वाभाश रहता है . कुछ आत्मिक संकेत मुझे भविष्य मैं होने जा रही घटनाओं कि जानकारी देते रहते हैं . एक दो बार लोकल मीडिया को सूचित करने का असफल प्रयास भी किया और अपने परिचय क्षेत्र में मौखिक सुचना भी दी साथ ही हमारी कानून व्यवस्था से भय भी रहता है किन्तु अब में जो भी आभाष होते हैं उन्हें जनहित मैं सार्वजानिक जरुर करना चाहूँगा .
पूर्वघोषित सन्देश
१ . १९९४ मैं भोपाल, म प्र के परिचितों को बताया कि - कोई ऐसी महामारी जो दुनियाँ से जा चुकी maan  ली गई है जैसे हैजा , प्लेग या  चेचक  फिर से आने वाली है और बड़े स्तर पर प्रभावित करने वाली है . < प्लेग आई और और नुकसान पंहुचाया >
२. हैती , चीन , पाकिस्तान , इंडोनेशिया ,  के भूकंप आने के २-३ दिन पहले लोकल प्रिंट मीडिया को इ-मेल सन्देश प्रेषित चीन के भूकंप की तीव्रता ६.८ बताई जो ७ रही .
३. मुंबई हमलों के बाद आतंकवादियों के भारत मैं घुसने की सुचना के बाद उ प्र स्थित मित्रों को पहला हमला वनारस मैं शिवरात्रि उत्सव जैसे भीड़ वाले समय मैं होने की सुचना मार्च से मई २००९ के बीच एस एम् एस द्वारा दी . < धन्यवाद् दोस्तों का जो उस एस एम् एस को भूल गए अन्यथा शायद पुलिस मुझे परेशान कर रही होती >
कुछ पूर्वाभाश
१. प्रधान मंत्री के रूप मैं श्री मन मोहन सिंह अपना कार्यकाल पूरा नहीं कर पायेंगे . यदि ऐसा होता है तो भी राहुल गाँधी अगले पी एम् नहीं होंगे कोई बिलकुल चोंकाने वाला नाम नया पी एम् होगा .
२. वाराणसी हमलों का सुराग मुंबई के स्थान पर दिल्ली  से मिलेगा .
[ उपरोक्त केवल पूर्वाभाश हैं इनके सच होने का में कोई दावा नहीं करता .]
एक टिप्पणी भेजें

Translate