समर्थक

रविवार, 27 अक्तूबर 2013

चर्चित तीर-6

स्वागत् है आपका SwaSaSan पर....

 
6.
नरेन्द्र मोदी एवं रा. स्व. संघ दोनों ही का
राष्ट्रवादिता श्रेष्ठतम गुण है.....
एकमात्र एवं निकृष्टतम अवगुण
विरोधी विचारधारा के उठते स्वर का परिहार
स्वर के श्रोत को ही मिटाकर कर देना .…
चुनावों के मौसम में मोदीजी भी  ….
 कांग्रेसियों का अनुसरण करते दिख रहे हैं ?
यथा कांग्रेसियों को केवल तीन पूर्व प्रधानमन्त्री ही उल्लेखनीय लगते हैं ….
मोदीजी को बस एक …
कांग्रेसियों को केवल
कांग्रेस शासित प्रदेश
अग्रणी दिखते हैं
मोदीजी को
केवल (भाजपा शासित में से भी) गुजरात ?
.
यदि लम्बे समय तक
लगातार शासन कर पाना ही विशेषता है
तो केंद्र के लिए कौन अधिक योग्य ???
.
 'स्व-सा-सन' अनुसार
विभिन्न उत्कृष्टता मानदंडो पर मापने पर
अब तक के सर्वश्रेष्ठ
भारतीय प्रधान-मंत्री क्रमशः
१-
राजीव गाँधी
(सर्व प्रथम राजनेता जिसने ८५% तक के भ्रष्टाचार
को स्वीकारने का साहस दिखाया ,
दूर करने के उपायों के रूप में
कम्प्यूटरीकरण की जिद्दी शुरुआत की,
आधार कार्ड की आधारशिला रखी,
 सर्वदलीय सहमती की विचारधारा की शुरुआत की )
२- लालबहादुर शास्त्री
(बहुत छोटा सा कार्यकाल किन्तु देश को
खाद्यान्न आत्मनिर्भरता की ठोस अवधारणा का सूत्रपात किया )
३- इंदिरा गाँधी
(दो निर्भीक महत्वपूर्ण कदम
बांग्लादेश का  निर्माण ,
पाक प्रोत्साहित सुलगते पंजाब में आतंकवाद का दमन,)
(-बड़ी भूल  आंतरिक आपातकाल -)
४- अटल बिहारी बाजपेयी
(उचित समय पर ग्रामीण क्षेत्रों को सड़क मार्ग उपलब्ध कराने प्रधानमंत्री सड़क  योजना,
शिक्षा को आन्दोलन के रूप में उभरने के प्रयास )
५- मनमोहन सिंह
(आम आदमी के हित में सर्वाधिक बड़े और कड़े फैसले लेने में साहसिक सफलता
.क- डायरेक्ट ट्रान्सफर स्कीम की शुरुआत,
ख. - दुनियाँ भर में आयी आर्थिक मंदी से
देश को न्यूनतम प्रभावित होने देने में सफल
ग.- घरेलु गैस पर सब्सिडी सीमित करने का कदम,
घ.- खाद्यान्न सुरक्षा योजना )
च.- भूअधिग्रहण अधिनियम   .
वर्तमान मुख्य मंत्रियों
  में-
१- शिवराज सिंह
(प्रदेश कि विकास दर - 04 से शुरु कर 10 के ऊपर तक पहुचाने मे
विवाद रहित प्रशासन के साथ् सफल !
कारण रहे लोक सेवा गारंटी जैसे विषिष्ट कार्यक्रमों का प्रस्तुतीकरण,
भ्रष्टाचारी अधिकारियों के विरुद्ध कार्यवाही कि त्वरित अनुमति,
साम्प्रदायिक भेदभाव रहित शासन
किसी पूर्व शासक द्वारा प्रारम्भ की योजना को बन्द नहीं किया गया,
विपक्षी केन्द्र शासन की जनहित कारी योजनाओं को परहेज रहित लागू किया जाना आदि ! )
२- नीतिश  कुमार
(गुण्डाराज के लिए विश्व प्रसिद्ध बिहार को विकास के लिए प्रसिद्ध बनाने में सफल)
३- नरेन्द्र मोदी
(गुजरात की प्रसिद्धि भी सारे विश्व में पिछले 100 बर्षो से अधिक से है!
इसीलिए गुजरात का थोडा और विकास ऊपर  लिखे प्रदेशों की तुलना में  कम किन्तु महत्व्पूर्ण .
नवोन्मेशी योज्नाओं यथा नहरों के खुले हिस्से पर
सोलार पेनल लग्वाने जैसी योजना का लागू करवाना आदि. )
४- शीला दीक्षित
(सारे भ्रष्टाचार के आरोपों के बाबजूद दिल्ली महानगर को
दुनियाँ से विश्व-स्तरीय मनवाने योग्य बनाने मे सफल!
अभी अभी मीडिया द्वारा दिल्ली चुनावों के मद्देनजर कराए सर्वे में
तमाम आरोपों के बाबजूद  सर्वप्रथम )
5.- विजय बहुगुना
(चुनाव जीतकर आते ही महाविनाश से सफल्ता पूर्वक सामना )
-----------
.... अपेक्षित हैं समालोचना/आलोचना के चन्द शब्द...

कोई टिप्पणी नहीं:

Translate